UPMSP UP Board Class 10, 12 Exam: परीक्षाफल के लिए अंकों के निर्धारण को मिले सुझावों पर मंथन जारी

Jun 12, 2021 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

हिंदी English

UPMSP UP Board Class 10, 12 Exam: परीक्षाफल के लिए अंकों के निर्धारण को मिले सुझावों पर मंथन जारी

UPMSP UP Board Class 10, 12 Exam: माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) प्रयागराज की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के पंजीकृत छात्रों का परीक्षाफल तैयार करने के लिए तर्कसंगत अंकों के निर्धारण पर मंथन जारी है। अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला की अध्यक्षता में गठित उच्च स्तरीय समिति की शनिवार को माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के पार्क रोड (लखनऊ) स्थित शिविर कार्यालय में हुई बैठक में अब तक प्राप्त सुझावों पर विचार-विमर्श किया गया।

समिति को मिले हैं चार हजार सुझाव
यह समिति जल्द ही अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेगी। इसके बाद उच्च स्तर से अंतिम निर्णय लिया जाएगा। इस वर्ष हाईस्कूल परीक्षा में कुल 27808 विद्यालयों के 29,94,312 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा में 17697 विद्यालयों के 26,10,316 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। इस प्रकार कुल 56,04,628 परीक्षार्थियों का परीक्षाफल तैयार करने के लिए अंकों के निर्धारण की प्रक्रिया के विषय में बैठक में विस्तृत चर्चा की गई। हाईस्कूल में 40 विषय संचालित हैं जबकि इंटरमीडिएट में 106 विषय संचालित हैं। अभिभावकों, शिक्षकों, शिक्षाविदों तथा आम जनमानस की तरफ से अंक निर्धारण के संबंध में समिति को लगभग चार हजार सुझाव प्राप्त हुए हैं। इसमें छात्र-छात्राओं के कई रचनात्मक सुझाव भी शामिल हैं।

पूर्व में हो चुकी हैं 4 बैठकें
अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने बताया कि अंक निर्धारण के संबंध में पूर्व में भी चार बैठकें हो चुकी हैं। शनिवार को हुई पांचवीं बैठक में हाईस्कूल के उन परीक्षार्थियों जिन्होंने व्यक्तिगत आवेदन किया है एवं जिन्होंने अन्य बोर्डों से कक्षा-9 उत्तीर्ण किया है, अथवा वे सैनिक परीक्षार्थी एवं जेल में निरुद्ध बंदी परीक्षार्थी जिन्हें कक्षा-9 में पंजीकरण से छूट प्रदान की गई है, उनके अंकों के निर्धारण के संबंध में भी चर्चा की गई। इसी प्रकार इंटरमीडिएट परीक्षा में पत्राचार, कृषि वर्ग, व्यावसायिक वर्ग तथा इंटरमीडिएट की समकक्षता के लिए केवल हिन्दी विषय में सम्मिलित होने वाले आईटीआई उत्तीर्ण परीक्षार्थियों तथा संपूर्ण विषयों में शामिल होने वाले उन सैनिकों एवं जेल में निरुद्ध बंदी परीक्षार्थियों, जिन्हें कक्षा-11 में पंजीकरण से छूट प्रदान की गई है, के अंकों के निर्धारण के संबंध में भी विचार किया गया। बैठक में विशेष सचिव शम्भू कुमार, उदय भानु त्रिपाठी व जय शंकर दुबे, शिक्षा निदेशक विनय कुमार पाण्डेय, अपर शिक्षा निदेशक मंजू शर्मा तथा यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ला उपस्थित थे।

संबंधित खबरें

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *